निःसंतान दंपति ने कृष्ण को पुत्र बनाया तो कृष्ण अपना कर्तव्य निभाने आए — Vaartaa News

उत्कल देश पुरुषोत्तम क्षेत्र में राजा प्रतापरुद्र के समय में गोविन्दपुर ग्राम एक प्रधान तीर्थस्थल था। उसी गोविन्दपुर में हमारे चरितनायक परमपूज्य भक्त श्रीगंगाधरदास जी का निवासस्थान था। उनकी स्त्री का नाम था श्रियाजी। ये परम सती और साध्वी थीं, स्वामी को बहुत प्रिय थीं, पर इनके कोई सन्तान न थी। ये जाति के बनिये थे। सन्तान न होने पर… childless couple, Krishna, Religious Story http://vaartaa.news/religious/childless-couple-assumed-krishna-as-c

via निःसंतान दंपति ने कृष्ण को पुत्र बनाया तो कृष्ण अपना कर्तव्य निभाने आए — Vaartaa News

Advertisements