2016 चिकित्सा नोबल पुरस्कार : योशिनोरी ओसुमी

विज्ञान विश्व


जापान के वैज्ञानिक योशिनोरी ओसुमी को वर्ष 2016 के चिकित्सा नोबल पुरस्कार के लिए चुना गया है। उन्हें ये पुरस्कार कोशिकाओं के क्षरण( डिग्रेडेशन) और पुन:चक्रण( रिसाइकिलिंग) पर उनके शोध के लिए दिया जा रहा है।

टोक्यो यूनिवर्सिटी से पढ़ाई करने वाले ओहसुमी ने रॉकफेलर यूनिवर्सिटी से पोस्ट-डॉक्टरल की डिग्री हासिल की है।  1977 में रिसर्च एसोशिएट की पद पर काम करने वाले ओहसुमी को 1986 में टोक्यो यूनिवर्सिटी में लेक्चरर के पद पर नियुक्त किया गया।  1986 में वो नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ बेसिक बॉयोलॉजी में काम करना शुरू किया, जहां उन्होंने प्रोफेसर का पद संभाला।

नोबेल कमेटी ने कहा कि ओसुमी की खोज से कोशिका से जुड़ी कई प्रक्रियाओं के बारे में जानकारी करने में मदद मिली है। इनमें कोशिकाओं में होने वाले परिवर्तन और संक्रमण की प्रक्रिया शामिल हैं, जो पारकिंसन जैसी तंत्रिका से जुड़ी बीमारी, मधुमेह और कैंसर की वजह बनती हैं। पुरस्कार के एलान के बाद ओसुमी…

View original post 240 more words

Advertisements